03 February 2006

Anthony Gonsalves

आज बहुत पुराने गाने और फिल्मों के लाइन याद आ रहे हैं, तो पेश है,

"My name is Anthony Gonsalves,

मैं दुनिया में अकेला हूँ,
दिल भी है खाली, दर भी है खाली,
जिसमे रहेगी कोई हिम्मतवाली,
जिसे मेरी याद आए, जब चाहे चली आए,
जिसे मेरी याद आए, जब चाहे चली आए,
रूप महल, प्रेम गली, खोली नम्बर ४२०

Excuse me please."

"आपका तो लगता है बस यही सपना,
राम राम जपना पराया माल अपना"

"बसन्ती, तुम्हारा नाम क्या है?"

"प्रीतम आन मिलो"

"तीन खड्डे और जलती हुई घास, इसका मतलब एलिएन (Alien)"

"मैं पल दो पल का शायर हूँ, पल दो पल मेरी कहानी है,
पल दो पल मेरी हस्ती है, पल दो पल मेरी जवानी है।"

"एक चतुर नार कर के श्रिंगार,
अय्यो गोडे तेरी... यह गोडा, चतुर, गोडा, चतुर, येक पे रहना, या तो गोडा बोला या चतुर"

"पाप से धरती फटी, अधर्म से आसमान,
अत्याचार से काँपी इनसानियत, राज कर रहे हैवान,
जिनकी होगी ताक़त अपूर्व, जिनका होगा निशाना अभेद,
जो करेंगे इनका सर्वनाश, वह कहलाएंगे त्रिदेव।"
... और इसके कई अनगिनत मज़ेदार वर्षन

बुखार की वजह से न जाने क्या क्या याद आता है, अगली बार कुच्छ अच्छा सा लिखूँगा।

2 comments:

Mansoora said...

uh uh uhhhhhhhhh....translation please ? :) kidding don't worry

Mosilager said...

i'll read it to you sometime I'm sure you'll understand